amrita-asha, poetry

वो नासमझ बेटियां कुछ तो सोचा होता कुमारी किर्ती अमृता आशा… Hindi Writer

    बाप की पगड़ी उछली होंगी.. जब उस बाप की बेटी ने परिवार से पहले अपने प्रेमी को चुना […]